पीएम मोदी से मिलीं बांग्लादेशी प्रधानमंत्री शेख हसीना, तीस्ता और रोहिंग्या पर हुई बातचीत

भारत और बांग्लादेश के बीच द्विपक्षीय रिश्ते नए मुकाम पर पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने आज नई दिल्ली में मुलाकात की।

पीएम मोदी से मिलीं बांग्लादेशी प्रधानमंत्री शेख हसीना, तीस्ता और रोहिंग्या पर हुई बातचीत
अमित झा
अमित झा

October 5,2019 01:40

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीन ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। शेख हसीना की भारत यात्रा के दौरान दोनों देश कारोबार, सम्पर्क सहित अपने द्विपक्षीय संबंधों को ''अगले स्तर' पर ले जाने एवं संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के लिये 6-7 दस्तावेजों पर हस्ताक्षर हुए तथा कुछ परियोजनाओं को आगे बढ़ाया गया।

 

 

शेख हसीना राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी भेंट करेंगी। इस दौरान दोनों देशों के बीच 6-7 दस्तावेजों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं जो परिवहन, क्षमता निर्माण और संस्कृति से जुड़े होंगे।

 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि मोदी और हसीना संयुक्त रूप से 3 परियोजनाओं का उद्घाटन भी करेंगे। रवीश ने बताया कि भारत और बांग्लादेश के बीच कभी नजदीकी संबंध नहीं रहे। निश्चित रूप से दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने पर बातचीत होगी। जब हम द्विपक्षीय रिश्ते की बात कहते हैं तो इसका मतलब है कि दोनों देश संबंधों को नई दिशा में आगे बढ़ाने के लिए सकारात्मक पहल करने वाले हैं। प्रधानमंत्री मोदी और हसीना के बीच विकास, सहयोग, लोगों को आपस में जोड़ने, संस्कृति और आपसी हितों के मुद्दे पर चर्चा होगी।

 

‘एनआरसी का मामला सुप्रीम कोर्ट में’

 

नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) के मुद्दे पर रवीश ने कहा कि पूरा मामला सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में हो रहा है। फिलहाल इस पर टिप्पणी करना ठीक नहीं हैं। पूरी प्रक्रिया होने के बाद ही इस पर कुछ कहना ठीक होगा।

 

‘प्याज से हमारे लिए दिक्कत हो गई’

 

हसीना ने शुक्रवार को भारत-बांग्लादेश बिजनेस फोरम को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘‘प्याज से थोड़ी दिक्कत हो गई हमारे लिए। मुझे मालूम नहीं क्यों आपने प्याज भेजना बंद कर दिया। थोड़ा सा नोटिस अगर देते तो दूसरी जगह से ला सकते थे। मैंने कुक को बोल दिया अब से खाने में प्याज डालना बंद कर दो। आगे से अगर किसी भी तरह से ऐसा कुछ करना है, तो हमें थोड़ा पहले बता देना।’’ हसीना से यह बात हिंदी में सुनकर वहां मौजूद लोग भी हैरान रह गए। 

 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने इस मामले पर कहा कि हम कोशिश कर रहे हैं कि प्याज पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने जो चिंताएं जाहिर की हैं, उनका समाधान किस प्रकार किया जा सकता है। 29 सितंबर को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने हर तरह के प्याज के निर्यात पर रोक लगा दी थी।

prime minister narendra modi bangladesh pm sheikh hasina delhi