मायावती करेंगीं ‘डिजिटल रैलियाँ’ कितनी कारगर साबित होगी ये स्ट्रेटेजी

बसपा के प्रवक्ता एमएच खान के अनुसार बसपा सुप्रीमो मायावती की फुल प्रूफ तैयारी है|


मायावती करेंगीं ‘डिजिटल रैलियाँ’ कितनी कारगर साबित होगी ये स्ट्रेटेजी
Desh 24X7
Desh 24X7

January 4,2022 04:23

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव सिर पर है। कुछ दिनों बाद चुनाव की घोषणा होने की उम्मीद जताई जा रही है। जैसे-जैसे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहा है। वैसे-वैसे सभी राजनीतिक दल जोर-शोर से सभा और रैलियाँ कर जनता को अपनी ओर करने के लिए जुट गए हैं। सभी पार्टी के नेताओं कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश चुनाव की तैयारियों में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण बढ़ने पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने जूम और हाई डेफिनेशन यानी एचडी रैली के लिए पूरी तैयारी कर ली है। बता दें कि इसके लिए कार्यकाल में पूरा सेटअप किया गया है| जिलों के पार्टी प्रभारियों को निर्देश दे दिए गए हैं।

 

 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मायावती अपनी रैलियाँ कुछ दिन में शुरू करने वाली हैं। हालाँकि कोविड-19 संक्रमण बढ़ने पर और रैली ना होने पाने की स्थिति में बीएसपी चीफ मायावती पहली बार जूम रैली और सोशल साइट का प्रयोग करने जा रही है। बता दें कि इसके लिए ऑफिस में लैपटॉप कंप्यूटर सेटअप तैयार कर लिया गया है।

 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सोशल मीडिया और जूम के जरिए आने वाली रैली में बसपा ने सभी जिले के प्रभारियों और सेक्टर इंचार्ज के साथ कार्यकर्ताओं को जुड़ने के निर्देश दे दिए हैं। बता दें कि इसमें बूथ अध्यक्ष छोटे-छोटे ग्रुप में लोगों को इकट्ठा करेंगे| साथ ही मोबाइल और लैपटॉप के जरिए आम जनता मायावती को देख पाएंगे और सुन पाएंगे उसके लिए फुलप्रूफ तैयारी कर ली गई है।

 

बसपा के प्रवक्ता एमएच खान के अनुसार बसपा सुप्रीमो मायावती की फुल प्रूफ तैयारी है| वह कोविड-19 की स्थिति में भी अपनी रैली नहीं रोकेंगी और प्रदेश की जनता से रूबरू होती रहेंगी। इसके लिए सभी जिलों के प्रभारियों को सूचित कर दिया गया है| सभी जिलों में सेटअप तैयार कर दिए गए हैं।

 

 

हम आपको बता दें कि एक तरफ अखिलेश यादव की जमीनी रैलियों में जो भीड़ उमड़ रही है उसको देखते हुए बसपा समर्थकों के मन में ये सवाल जरूर उठ रहा होगा कि बसपा सुप्रीमो मायावती की ये डिजिटल रैलियाँ क्या उत्तर प्रदेश चुनाव में जीत दर्ज कराने में सहायक होंगीं ?

 

 

 

 

 

mayawatispakhilesh yadavup election 2022