रेलवे ने 30 जून तक सभी यात्री ट्रेनों के टिकट रद्द किये

रेल मंत्रालय ने गुरुवार को 30 जून तक प्रवासियों के द्वारा बुकिंग किये गये सभी यात्री ट्रेनों के टिकटों को रद्द कर दिया है।

रेलवे ने 30 जून तक सभी यात्री ट्रेनों के टिकट रद्द किये

रेल मंत्रालय ने गुरुवार को 30 जून तक प्रवासियों के द्वारा बुकिंग किये गये सभी यात्री ट्रेनों के टिकटों को रद्द कर दिया है। इसके कारण लाकडाउन के बाद यात्रियों की यात्रा योजनाओं के खटाई में पड़ने की उम्मीद बढ़ गई है।

 

मंत्रालय ने यह भी कहा कि यात्रियों को नियमित यात्री ट्रेनों में 30 मई तक बुक किये गये टिकटों की पूरी राशि लौटायी जायेगी। लेकिन फंसे हुए मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए शुरू की गई विशेष श्रमिक ट्रेनों का चलना जारी रहेगा।

 

नियमित ट्रेनों के टिकटों को रद्द किये जाने की बात रेल मंत्रालय के द्वारा कुछ विशेष मार्गों पर  यात्री ट्रेनों को चलाये जाने के दो दिन बाद कही गयी है।

 

रेलवे ने यह भी कहा कि जिन यात्रियों को कोरोना वायरस से संक्रमित होने के लक्षण पाए जाने के कारण यात्रा नहीं करने दी जायेगी, उनको भी उनके टिकटों का पूरा पैसा वापस किया जायेगा।

 

गृह मंत्रालय के द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की जायेगी, जिन यात्रियों में किसी प्रकार के लक्षण नहीं मिलेंगे, सिर्फ उन्हीं को रेलों में सवार होने और यात्रा करने की इजाजत दी जायेगी।

 

यदि स्क्रीनिंग के दौरान यात्री को तेज बुखार या कोविड-19 से संबंधित लक्षण पाए जाते हैं, उसे कन्फर्म टिकट होने के बाद भी यात्रा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। इन यात्रियों को टिकटों की पूरी राशि वापस लौटा दी जायेगी, आदेश में कहा गया है।

 

आदेश में यह भी कहा गया है कि यदि किसी ग्रुप के एक यात्री को बीमारी के लक्षणों के कारण यात्रा की इजाजत नहीं दी जाती है और उस पीएनआर पर अन्य यात्री भी यात्रा नहीं करना चाहते हैं, तो सभी यात्रियों को टिकट का पूरा पैसा लौटाया जाएगा।

 

यदि ग्रुप टिकट में किसी एक यात्री को बीमारी के लक्षणों के कारण यात्रा करने की इजाजत नहीं दी जाती है, लेकिन उस ग्रुप टिकट के अन्य यात्री यात्रा करना चाहते हैं, तो उनको यात्रा करने की इजाजत दी जायेगी, जो यात्री यात्रा नहीं करेंगे, उनके टिकट का पूरा पैसा वापस कर दिया जायेगा।

Rail Ministry Train tickets booking No Trains