मोदी सरकार की कम नहीं हुई मुसीबत, किसानों ने रख दी एक और माँग, जानिये क्या है ?

प्रधानमंत्री मोदी ने कल तीनों कृषि कानून को वापस लेने का ऐलान किया लेकिन मोदी सरकार की अभी भी मुसीबत कम नहीं हुई है |

मोदी सरकार की कम नहीं हुई मुसीबत, किसानों ने रख दी एक और माँग, जानिये क्या है ?

प्रधानमंत्री मोदी ने कल तीनों कृषि कानून को वापस लेने का ऐलान किया तो पूरे देश सहित वर्ल्ड मीडिया में इसकी खूब चर्चा हुई, किसानों ने मिठाई बाँटीं और जश्न मनाया | वहीं नरेन्द्र मोदी की सरकार पर विपक्ष ने जमकर निशाना साधा, उन पर तमाम नेताओं ने अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दी लेकिन मोदी सरकार की अभी भी मुसीबत कम नहीं हुई है | जी हाँ, हुआ यूँ कि अब किसान संगठनों के नेता न्यूनतम समर्थन मूल्य ( MSP ) पर कानून बनाने की माँग करने लगे हैं। इस मुद्दे पर दिल्ली बॉर्डर पर 32 किसान संगठनों की आज बैठक होने वाली है। इस बैठक में एमएसपी, शहीद किसानों के परिजनों को मुआवजे और अन्य लंबित मुद्दे पर किसान संगठनों के नेता अहम फैसला ले सकते हैं।

 

 

कयास लगाए ला रहे हैं कि किसान संगठनों के नेता मौजूदा शीतकालीन सत्र में ही मुद्दे पर कानून चाहते हैं। बता दें कि पीएम मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्र को संबोधित करते हुए एक साल से ज्यादा समय से कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील की थी। साथ ही उन्होंने किसानों से अपने खेत व परिवार के बीच लौटने का आह्वान किया था। पीएम ने कहा था कि अगले महीने संसद के शीतकालीन सत्र में तीनों कृषि कानून को वापस लेने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।

 

हम आपको बता दें, मोदी सरकार के इस फैसले का कुछ किसान संगठनों ने स्वागत किया है। दूसरी तरफ संयुक्त किसान मोर्चा ने आंदोलन खत्म नहीं करने का एलान किया है। किसान नेता राकेश टिकैत ने स्पष्ट कर दिया है कि किसान आंदोलन तत्काल वापस नहीं होगा। संसद सत्र में कानून वापस लेने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी, इसके बाद ही किसान आंदोलन खत्म करेंगे। बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हम उस दिन का इंतजार कर रहे हैं जब कृषि कानूनों को संसद में रद्द किया जाएगा। इसके अलावा न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी ) पर गारंटी कानून और किसानों से संवाद करने के लिए कमेटी बनाई जाए। टिकैत ने कहा कि 10 हजार से ज्यादा किसानों पर मुकदमे दर्ज हैं उसका क्या होगा?

 

 

इसी बीच कृषि कानूनों की वापसी के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि यह सत्य की जीत है। हम किसानों के साथ हमेशा से रहे हैं और आगे भी कांग्रेस किसानों का साथ देती रहेगी | अब ऐसे में मोदी सरकार, क्या MSP पर कानून बनाएगी ये तो वक्त आने पर ही पता चलेगा | 

 

 

kisan andolannarendra modifarmers protestmsp