इस मुश्किल दौर में आज पत्रकारिता ने अपना ‘जायका’ खो दिया!

भारत में टीवी पत्रकारिता में अग्रणी, विनोद दुआ ने अन्य टीवी चैनलों और ऑनलाइन पोर्टलों पर शो करने के अलावा दूरदर्शन और एनडीटीवी के साथ अपने पत्रकारिता करियर के बड़े हिस्से में काम किया.

इस मुश्किल दौर में आज पत्रकारिता ने अपना ‘जायका’ खो दिया!

वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का निधन हो गया है। 67 की उम्र में उन्होंने दिल्ली के अपोलो अस्पताल में आखिरी साँस ली है। पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि दोपहर करीब साढ़े चार बजे उनका निधन हुआ। दूरदर्शन और एनडीटीवी जैसे समाचार चैनलों के लिए सेवाएं दे चुके दुआ हिंदी पत्रकारिता के जाने माने चेहरा रहे। दुआ को लीवर में संक्रमण के कारण कुछ दिनों पहले परमानंद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पिछले 5 दिनों से वह अपोलो अस्पताल के आईसीयू में भर्ती थे। दुआ अपने पीछे दो बेटियाँ छोड़ गए हैं।

 

 

दुआ की पत्नी का इसी साल जून में कोरोना संक्रमण के कारण निधन हो गया था। दुआ भी कोरोना से लड़े थे और इसके बाद से उनका शरीर लगातार कमजोर होता गया। दुआ का अंतिम संस्कार रविवार दोपहर 12 बजे लोधी श्मशान गृह में किया जाएगा।

 

 

भारत में टीवी पत्रकारिता में अग्रणी, विनोद दुआ ने अन्य टीवी चैनलों और ऑनलाइन पोर्टलों पर शो करने के अलावा दूरदर्शन और एनडीटीवी के साथ अपने पत्रकारिता करियर के बड़े हिस्से में काम किया. हम आपको बता दें, मल्लिका दुआ ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा, ''हमारे निर्भीक, निडर और असाधारण पिता विनोद दुआ का निधन हो गया है। उन्होंने एक अद्वितीय जीवन जिया, दिल्ली की शरणार्थी कॉलोनियों से शुरु करते हुए 42 वर्षों तक पत्रकारिता की उत्कृष्टता के शिखर तक बढ़ते हुए, हमेशा सच के साथ खड़े रहे।'' उन्होंने लिखा, “वह अब हमारी माँ, उनकी प्यारी पत्नी चिन्ना के साथ स्वर्ग में है, जहाँ वे गीत गाना, खाना बनाना, यात्रा करना और एक दूसरे से लड़ना-झगड़ना जारी रखेंगे।''

 

vinod duavinod dua death mallika duajayka