कश्मीर: प्रतिबंध के 70 दिन बाद पोस्टपेड मोबाइल सेवा शुरू, पर्यटकों की आवाजाही के मद्देनजर फैसला

अनुच्छेद 370 हटाए जाने के दौरान 5 अगस्त से जम्मू-कश्मीर में संचार सेवाओं पर प्रतिबंध लगा था

कश्मीर: प्रतिबंध के 70 दिन बाद पोस्टपेड मोबाइल सेवा शुरू, पर्यटकों की आवाजाही के मद्देनजर फैसला
Desh 24X7
Desh 24X7

October 14,2019 02:29

जम्मू-कश्मीर के 10 जिलों में पोस्टपेड मोबाइल सेवा सोमवार दोपहर को शुरू हो गई। अनुच्छेद 370 हटाए जाने के दौरान सुरक्षा के मद्देनजर 5 अगस्त से सभी मोबाइल और लैंडलाइन सेवाएं बंद कर दी गई थीं। राज्य के प्रधान सचिव रोहित कंसल के मुताबिक, सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के बाद यह फैसला लिया गया है। लैंडलाइन पहले ही चालू हो चुकी है।

 

कंसल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में 99% इलाकों में आवाजाही पर प्रतिबंध हटा लिया गया है। जम्मू, लद्दाख और कुपवाड़ा में मोबाइल सेवाएं पहले ही शुरू हो गई हैं। 16 अगस्त से प्रतिबंधों में धीरे-धीरे कमी की गई है। सितंबर के पहले सप्ताह तक अधिकांश प्रतिबंध हटा दिए गए थे।

 

पर्यटकों की आवाजाही के चलते फैसला लिया

 

प्रधान सचिव के मुताबिक, राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने 7 अक्टूबर को पर्यटकों के लिए जारी दो महीने पुरानी एडवाइजरी को वापस लेने के निर्देश दिए थे। इसके बाद 10 तारीख से पर्यटक कश्मीर में पहुंचने लगे थे। इसी के चलते मोबाइल सेवा फिर से बहाल करने का फैसला लिया गया।

 

‘संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती’

 

डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा है कि मोबाइल फोन का इस्तेमाल राज्य में नफरत फैलाने के लिए भी किया जा सकता है। स्थानीय पुलिस फर्जी खबरों पर नजर रखेगी। साथ ही संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती की जाएगी। किसी भी तरह की अवैध गतिविधियों पर पैनी नजर होगी। ऐसे इनपुट भी मिले हैं कि पाकिस्तान के आतंकी गुट अफवाह फैलाकर कानून-व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश कर सकते हैं।

 

 

DGP Dilbagh Singh Jammu and kashmir Abolish Article 370 in Kashmir