उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के परिवार के लोग उनसे मिले

एक माह तक घर में नजरबंद रखने के बाद नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला और पिपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की मुखिया महबूबा मुफ्ती को उनके परिवार से मिलने की इजाजत दी गई

उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के परिवार के लोग उनसे मिले

सरकार द्वारा जम्मू और कश्मीर से धारा 370 हटाने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों में बांटने का निर्णय लेने से एक दिन पहले दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों को सुरक्षा कारणों से हिरासत में ले लिया गया था।

 

उमर अब्दुल्ला का परिवार इस हफ्ते उनसे श्रीनगर के हरि हाउस में दो बार मिला, जहां पर उन्हें केन्द्र सरकार के कदम उठाने के तुरंत बाद ले जाया गया था। उनकी बहन साफिया और बच्चों को शनिवार 20 मिनट मिलने की अनुमति दी गई।

 

साफिया और उनकी चाची लगातार उपायुक्त कार्यालय जाकर सोमवार को उमर अब्दुल्ला से मिलने की इजाजत मांग रहे थे। इससे पहले ईद पर भी साड़ियां ने अपने भाई उमर से फोन पर बात की थी।

 

मुफ्ती की मां और बहन को गुरुवार को मिलने की इजाजत दी गई। महबूबा मुफ्ती को वीवीआईपी राज्य गेस्ट हाउस हरि निवास, राज्यसभा के द्वारा राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों में बांटने का बिल पारित करने के कुछ ही देर बाद ले जाया गया था।

 

नेशनल कांफ्रेंस के संरक्षक और उमर अब्दुल्ला के पिता फारुक अब्दुल्ला ने भी तीन बार अपने बेटे से मिलने की इजाजत मांगी थी, लेकिन जम्मू और कश्मीर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने उसे स्वीकार नहीं किया।

 

सूत्रों ने जानकारी दी है कि न तो उमर अब्दुल्ला और न ही महबूबा मुफ्ती को न्यूज चैनलों और अखबारों के पत्रकारों से मिलने की इजाजत है। हालांकि अधिकारियों ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को पिक्चर देखने के लिए डीवीडी प्लेयर दिये हैं।

 

उमर हरि निवास परिसर में टहलते हैं और अपने टेबलेट पर पुस्तकें पढ़ते हैं, सूत्रों ने कहा।

 

सरकार द्वारा जम्मू और कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के बाद से मोबाइल, इंटरनेट और लैंडलाइन टेलीफोन बंद कर दिए गए हैं। कई स्थानों पर सार्वजनिक सभायें करनेऔर रैलियां निकालने की भी इजाजत नहीं है।

Mehbooba Mufti Omar Abdullah Kashmir