पूरी रात जगह-जगह सड़कों पर विजय रथयात्रा को मिले जनता के समर्थन से गदगद हैं अखिलेश

गाजीपुर से लखनऊ तक 341 किलोमीटर का सफर अखिलेश के रथ ने 21 घंटे में पूरा किया, रास्‍ते में करीब 100 स्‍थानों पर स्‍वागत में खड़े लोगों ने अखिलेश यादव जिन्‍दाबाद के नारों से सर्द रात में पैदा की गर्मी

पूरी रात जगह-जगह सड़कों पर विजय रथयात्रा को मिले जनता के समर्थन से गदगद हैं अखिलेश
आलोक पाठक
आलोक पाठक

November 18,2021 07:17

गाजीपुर से बुधवार को दोपहर करीब 2 बजे शुरू होकर लखनऊ तक आज गुरुवार को तड़के सुबह 5 बजे 21 घंटे में पूरी हुई 341 किलोमीटर लम्‍बी समाजवादी विजय रथ की यात्रा के दौरान जिस तरह रास्‍ते भर अखिलेश को गरीब-अमीर, बच्‍चे-बूढ़े सभी तब‍के के लोगों का जो समर्थन मिला है, उससे वह गदगद हैं। नवम्‍बर की सर्द रात में खड़े अपने समर्थकों के अभिवादन के लिए रथ की छत पर चढ़े अखिलेश के स्‍वागत में लोगों ने फूल मालाओं को हवा में उछाल कर अखिलेश तक पहुंचाया। पूर्वांचल की जनता से मिले प्‍यार से अभिभूत अखिलेश को 2022 में सपा का परचम लहराने के प्रति विश्‍वास को और बल मिला है। 

 

 

सपा मुखिया की इस यात्रा के दौरान मौजूद रहे ‘देश 24x7’ से अखिलेश ने बातचीत में कहा कि जैसा कि आप देख रहे हैं कि थोड़ी-थोड़ी दूर पर जनता का समाजवादी पार्टी को अपना समर्थन देने के लिए इकट्ठा होना दिखाता है कि जनता बेसब्री से 2022 का इंतजार कर रही है। हर वर्ग सपा से आशा लगाये हुए है कि अब अखिलेश यादव सत्‍ता में आएंगे तो उनके जीवन में आमूलचूल परिवर्तन आयेगा, आने वाले समय में उनके लिए खुशहाली का रास्ता होगा। 

 

 

उन्‍होंने कहा कि जनता की ये उम्‍मीदें गलत नहीं हैं, क्‍योंकि समाजवादी पार्टी का इतिहास रहा है कि उसने जनता की सहूलियत के लिए योजनाएं बनायी और उन्‍हें क्रियान्वित किया। उन्‍होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने अपने कार्यकाल में एम्‍बुलेंस दी है, पुलिस को 100 नम्‍बर समाजवादी पार्टी ने दिया है, बच्‍चों को पढ़ने के लिए लैपटॉप दिया है, महिलाओं को समाजवादी पार्टी पेंशन दे रही थी, ऐसी तमाम योजनाएं हैं जो गरीबों की मदद करती हैं, इसीलिए जनता की उम्‍मीद बढ़ना स्‍वाभाविक है। उन्‍होंने कहा कि समाजवादी पार्टी उनकी इस उम्‍मीद को तोड़ेगी नहीं बल्कि उनमें पंख लगायेगी। 

 

 

श्री यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों को धोखा दिया। खाद की बोरी में चोरी हुई। सरकार किसानों को डीएपी खाद नहीं दे पाई। धान का सही मूल्य नहीं मिल रहा है। नौजवान पांच साल तक नौकरी और रोजगार के लिए इंतजार करता रहा। भाजपा सरकार ने बेरोजगारी बढ़ाई है। हर वर्ग के लोग भाजपा के सफाए के लिए तैयार हैं। अखिलेश ने कहा कि गाजीपुर की सभा ऐतिहासिक हुई है, यहां ऐतिहासिक स्वागत हुआ है। 

 

 

अखिलेश कहते हैं कि भाजपा के झूठ को जनता समझ चुकी है, और उसने सपा को सत्‍ता में लाने का पूरा मन बना लिया है, मैं उस जनता का धन्‍यवाद और आभार प्रकट करता हूं जो इस जाड़े की रात में भी अपने घरों से निकल कर सपा को अपना प्‍यार और आशीर्वाद देने सड़कों पर बड़ी संख्‍या में पहुंची है। 

 

 

आपको बता दें कि सुहेलदेव भारतीय समाज पाटी के ओमप्रकाश राजभर के सपा के साथ आने के बाद पूर्वांचल में सपा का जनाधार मजबूत होता दिख रहा है। राजनीतिक हलकों में यह माना जा रहा है कि ओम प्रकाश राजभर का साथ मिलने के बाद सपा गठबंधन को कम से कम 40 सीटों पर असर देखने को मिल सकता है इन सीटों पर राजभर का वोटबैंक बहुत कुछ बदलाव करने की स्थिति में बताया जाता है। इस यात्रा के दौरान सुभासपा के कार्यकर्ता भी पहुंचे थे। 

 

 

गा‍जीपुर से लखनऊ तक की इस 341 किलोमीटर की यात्रा में करीब 100 जगहों पर लोगों ने अखिलेश का स्‍वागत किया। कहीं दो हजार, कहीं पांच हजार कहीं 10 हजार लोगों की भीड़ अखिलेश के स्‍वागत में पहुंची थी। इनमें बच्‍चे और युवा भी शामिल थे। अखिलेश यादव जिन्‍दाबाद के नारे सुनायी दे रहे थे। नरेन्‍द्र मोदी के लिए जहां एयरशो  हुआ था वहां भी करीब 30 हजार लोग इकट्ठा थे।     

Akhilesh happy support Vijay Rath Yatra अखिलेश खुश समर्थन विजय रथ यात्रा